Sach or Zuth. - सच और झूठ। Motivational speech in hindi.

Sach or Zuth. - सच और झूठ।

 Sach or Zuth. - सच और झूठ। Motivational speech in hindi. 


क्या तुम सच बोल रहे हो ? ऐसा सवाल आपसे कोई पूछे तो आप क्या जवाब डोज ? ज्यादातर लोग इसका जवाब 'हां' में देंगे। हा में सच बोल रहा हूं। अब दूसरा सवाल, अगर तुमसे कोई ये पूछे कि आल झूठ बोल रहे हो ? आप सच बोलना की आप इसका जवाब क्या दोगे। कोई व्यक्ति तुरंत यह नहीं कहेगा की में झूठ बोल रहा हु। इसका जवाब देने से पहले वो थोड़ी देर जरूर सोचेगा। वो सोचकर यह बोलेगा की कभी कभी में झूठ बोल देता हूं। कुछ लोग ऐसा भी कहेंगे कि किसी का भला हो रहा हो तो में झूठ बोल देता हूं। कुछ लोग ऐसा भी कहते है कि किसी का बुरा ना हो इस लिए में झूठ बोल देता हूं। झूठ बोलने के लिए हमारे पास हजार बहाने होते है। और सच बोलने के लिए किसी बहाने की जरूरत नहीं पड़ती। 


सच बोलना बहोत कठिन है। कठिन है इस लिए सभी सच नहीं बोल पाते। सच बोलना क्यों कठिन है ? इस लिए क्योंकि सत्य की किम्मत चुकानी पड़ती है। सत्य का सामना करना पड़ता है। सत्य सहन करता पड़ता है। सत्य का सामना नहीं कर सकते वो लोग झूठ का सहारा लेते है। कुछ भी बोलने से पहले लोग उसके परिणाम के बारेमे सोचते है। सच बोलेंगे तो क्या होगा ? झूठ बोलेंगे यो उसका परिणाम क्या आएगा ? लोग सोचते है कि सच बोलेंगे तो उसे साबित करना पड़ेगा, इधर - उधर जाना पड़ेगा ये करना पड़ेगा, वो करना पडेगा इस लिए लोग झूठ बोल देते है। किसी से पीछा छोडाने के लिए हम कितना झूठ बोलते है। लोग झूठ क्यों बोलते है ? हर किसी को पता है की झूठ बोलना खराब है। झूठ नहीं बोलना चाहिए। 


इसे भी पढ़े। 

मनुष्य की कीमत क्या है।

किसी बात से डरो मत।

जिंदगी का मतलब क्या है ?

जैसा करोगे वैसा पाओगे।

Post a Comment

0 Comments