मां तो मां होती है। मां की कहानी। Maa to maa hoti he.



मां तो मां होती है। Maa to maa hoti he.  मां की कहानी। यह कहानी उन लोगो के लिए है जो अपनी माँ से अलग रहते है। Hindi kahani. 

यह एक परिवार वालो के लिए छोटा सा Motivational story है। मुझे उम्मीद है कि आपको यह Story जरूर पसंद आएगी। पसंद आये तो shere जरूर करे।

एक गाँव मे मेला लगा था। मेले में पति पत्नी और उसके 4 साल के बच्चे के साथ मेले में घूमने आए थे। पति पत्नी मेले में इतने मगन हो जाते है कि उसके बच्चे पे उसका ध्यान नहीं रहेता। ओर उसका बच्चा मेले में खो जाता है। जब उसकी माँ को पता चलता है कि उसका बेटा उसके साथ नहीं है, तो वो पति से पूछती है कि हमारा बेटा कहा है? पति कहता है तेरे साथ ही तो था। वो बहोत घबरा जाती है। वो इधर उधर ढूंढने लगती है। बच्चा ना मिलने पर पति पत्नी दोनों रोने लगते है। बच्चे की माँ सभी लोगो से पूछती है की तुमने मेरा बेटा देखा है। और जोर से रोने लगती है। बच्चे को खोये 2 घंटे से उपर हो गए थे। थोड़ी देर में एक आदमी उसके बच्चे को लेके आता है। अपने बच्चे को देखकर वो खुश हो जाते है। और उस आदमी से पूछते है मेरा बेटा कहा था। उस आदमी ने कहा ये बाहर गेट पे खड़ा होकर रो रहा था, तो में अंदर आया तो आपको देखा तो आप रोते हुए बोल रहे थे कि मेरे बेटे को ढूंढो। तब मुझे लगा कि ये आपका बेटा है। वो दोनों उस आदमी का दिल से शुक्रिया करते है। और घर आते है।

घर आने के बाद सब खाना खाके सो जाते है। पर बच्चे का पिता देर रात तक नहीं सोता ओर,  जब सुबह होती है तब वो अपना सामान बेग में पैक कर रहा होता है। उसकी पत्नी उसे देखती है और कहती है , ये आप क्या कर रहे हो। आप कहीं जा रहे हो? पति कहता है हाँ! कल मेने तुमसे कुछ सीखा है। जब हमारा बेटा 2 घण्टे के लिए खो गया था तो तुम्हारी हालत केसी हुई थी। और तुम सोचो मेने अपनी माँ को तुम्हारे कहने पर 7 साल अलग रहा, सोचो उनपर क्या बीती होगी। पत्नी कहती है आपकी बात सही है। मुझसे बहोत बड़ी गलती हो गई। आप उन्हें यहा ले आइये हम साथ मे रहेंगे।

कुछ बाते ऐसी होती है जो खुद पर गुजरती है तब उसका अहसास होता है। में हर बार कहता हूं कहना आसान है पर जब खुद पर आती है तब पता चलता है।

Mother story.


Thanks for Reading.

Telegram Join 👇


Post a Comment

0 Comments