लालच करना अच्छी आदत नहीं है। Hindi kahani. Bacchon ki kahani.

 

लालच करना अच्छी आदत नहीं है। Hindi kahani. Bacchon ki kahani.


लालच करना अच्छी आदत नहीं है। Hindi kahani. Bacchon ki kahani. Hindi story. Kahaniyan.

 रतनपुर गांव में रामु और रमिला नामके दो पति पत्नी रहते थे। दोनों मंजूरी कर के अपना जीवन विताते थे। रामु स्वभाव से शांत और समजदार था, और रमिला स्वभाव से थोड़ा लालची था। रामु रोज अपने खेत मे काम करने जाता और उसकी पत्नी घर का सारा काम खत्म कर के रामु के लिए खाना लेकर जाती। खेत मे जाने के रास्ते मे एक एक सुंदर बंगला आता था। वो वहां का सबसे अमीर व्यक्ति का बंगला था। रमिला रोज उस बंगले को देखती और मन में कहती इस दंगल में रहने वाले शेठ और शेठानी को कितनी शांति होगी। कितने मजे रहते होंगे। 

Hindi kahani.

रमिला रोज इस बंगले में रहने आने का सपना देखती। एक दिन रमिला की दोस्त गीता को उस बंगले में काम मिला। जब इस बात की रमिला को पता चली तो वो दौड़ते हुए अपने दोस्त के पास बातचीत करने के लिए आ गई। गीता को रमिला के लालची स्वभाव के बारेमे पता था, इस लिए गीता ने रमिला से झूठ की बड़ी बड़ी बाते करने लगी। गीता ने रमिला से कहा कि मुझे तो बस बंगले के शेठानी के साथ बैठ कर सिर्फ बातें ही करना है, ड्राई फ्रूट खाना और वहां के बच्चे को खेलना बस। 


रमिला गीता की बात सुनकर चौक गई। उसने गीता से कहा मुझे भी वहां नोकरी करनी है। गीता ने इसका लाभ लेकर कहा की शेठानी बहोत गरीब लोगों को काम पर नहीं रखती। वो पहले चेक करती  है कि आपके पास कितना सोने के जेवरात और मिलकत है। आपके पास कम से कम पांच तोला सोना होगा तभी आपको काम पे रखेगा। रमिला ने कहा मेरे पास तो आठ तोला सोना है, जो मुझे अपनी शादी में मिला था। गीता ने कहा ठीक है। कल वो सोना लेकर आना। में शेठानी को बताऊंगी। अगर वो हा कहेगी तभी आपको काम मिलेगा।

Hindi story

रमिला लालच में आकर अपना सारा सोना ले आई और गीता को दे दिया। गीता सोना लेकर गई फिर वापसी ही नहीं आई। चिंतित रमिला सारी बात अपने पति को बताई। पति ने सर पे हाथ रख कर कहा अरे रमिला गीता ने तुम्हे मूर्ख बनाकर तुम्हारे जेवरात लेकर भाग गई। गीता के पास फूटी कौड़ी भी नहीं था। तुम्हारे पास इतने जेवरात है यह जानकर तुम्हे मूर्ख बना दिया। तुम्हारे लालच के कारण हमारे पास जो था वो भी चला गया। रमिला को बहोत पछ्तावा हुआ पर कोई रास्ता नही था। इस लिए कहते है ज्यादा लालच अच्छा नहीं है। 


Hindi kahani. Bacchon ki kahani. Hindi story.

Post a Comment

0 Comments