यहां गरीब लोगो को पिंजरे में रहेना पड़ता है। Hindi information. About hong kong.

Hindi information. About hong kong.


 यहां गरीब लोगो को पिंजरे में रहेना पड़ता है। Hindi information. About hong kong. 

विश्व में हर देश की अपनी अपनी समस्या होती है। कहि काम - धंधे की समस्या होती है तो कहीं जीवन चलाने के लिए बहोत कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। ऐसा ही कुछ हाल हॉन्गकॉन्ग के गरीब लोगों की है। यहां के गरीब लोग घर मे नहीं बल्कि लोहे के पिंजरे में रहने पर मजबूर होते है। वहां का जीवन बहोत दर्दनाक है।  यहां के गरीब लोग पिंजरे को ही अपना घर बनाना पड़ता है, और इस पिंजरे को हासिल करने के लिए भी बहोत ही महेनत करना पड़ता है। 

उसे एक पिंजरे के लिए बड़ी रकम चुकानी पड़ती है। फिर भी वो बुरी हालात में रहते है। एक रिपोर्ट के अनुसार एक पिंजरे की कीमत 10 से 11 हजार तक होती है। इस पिंजरे को टूटे हुए घर या खण्डेर घरों में रखा जाता हैं। यहां 1 अपार्टमेंट में 100- 100 लोग रहते है। उसमे भी 2 टॉयलेट होते है। इस लिए उन्हें बहोत दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। और यह पिंजरे बहोत छोटे होते है इस मे खाली सोया और बैठा जा सकता है। उस पिंजरे में खड़ा हो सके उतना बड़ा नहीं होता। वहां के रिपोर्ट के अनुसार एक लाख से अधिक लोग ऐसे पिजरे में रहते है। 


इस वेबसाइट को शेर जरूर करे। क्योंकि आपका एक शेर हमारे लिए बहोत महत्वपूर्ण है। तो शेर जरूर करे। 



Post a Comment

0 Comments