जैसा करोगे वैसा पाओगे। Hindi story. Jaisa karoge vesa paoge.

Jaisa karoge vesa paoge.

जैसा करोगे वैसा पाओगे। Hindi story. Hindi kahani. Motivational kahani. Bacchon ki kahani. 


 रामु एक किसान था। उसने अपने खेत मे टमाटर की खेती की। इस साल बारिश अच्छी होने के कारण टमाटर की खेती अच्छी हुई। खेती अच्छी होने के कारण रामु का पूरा परिवार खुश हो गया, क्योंकि इस साल रामु की लड़की की शादी थी। रामु अपनी लड़की के शादी में कोई भी कमी नहीं चाहता था। इस लिए टमाटर की खेती अच्छी होने के कारण वो अपनी बेटी की शादी धूमधाम से कर सकेगा। यह सोचकर वो टमाटर लेकर शहर में बेचने गया। जिस जगह टमाटर का भाव अच्छा मीले उसी जगह वो टमाटर बेचना चाहता था। इस लिए वो अपने साथ कम टमाटर लेकर गया। थोड़े टमाटर ले जाने के लिए वो अपना वाहन के बदले गधे को ले जाने का निर्णय लिया। 

रामु अपने गधे और उसका कुत्ता मोती के साथ शहर जाने के लिए निकला। शहर में टमाटर की अच्छी डील कर के अपने गांव वापस आबे के लिए निकला। वापस आते समय रामु ने गधे के ऊपर कुछ सामान रखा। जिसमे उसके कुत्ते और गधे का खाने का सामान था। आधे रास्ते चलने के बाद उसने एके पेड़ के नीचे आराम करने का सोचा। कुत्ते और गधे को पेड़ के नीचे रखने के बाद रामु एक पेड़ के नीचे थोड़ी देर के लिए सो गया। थोड़ी देर बाद गधे को भूख लगी। उसने अपना खाना खाने लगा। गधे को खाते देख कुत्ते को भी भूख लगने लगी। उसने गधे को कहा। तुम्हारे ऊपर जो पोटली है उसके अंदर मेरे खाने का सामान है वो मुझे दे। 

Hindi story.

गधे खाना देने से साफ इंकार कर दिया। गधे ने कहा, तुम्हारा खाना मालिक उठेगा तब देगा। में नहीं दे पाऊँगा। थोड़ी देर बाद गधे ने अपना खाना पूरा किया। और मोती बेचारा भूखा गधे के सामने देखता रहा। इतने में ही वहां एक शिकारी भालू आते हुए देखा। जैसे ही गधे ने उस भालू को देखा तो वो बहोत डर गया। डरते डरते गधे ने कुत्ते से मदद के लिए कहा, पर कुत्ते ने भी साथ इनकार कर दिया कि, में कुछ नही कर सकता, मालिक उठेंगे वहीं तुम्हारी मदद करंगे। गधे ने मन मे सोचा कि काश में मोती को खाना दे देता तो मोती मेरी मदद जरुर करता। 


इसे भी जरूर पढ़ें।




ऐसे ही पोस्ट के लिए हमारे Telegram को जॉइन करे।

Telegram Join 👇


Post a Comment

0 Comments