सस्ते चीजे खरीदना सही है या गलत। pkmotivation.


सस्ते चीजे खरीदना सही है या गलत। pkmotivation.


1 ) भारत के लोगो की सबसे बड़ी problem ये हे की सबको सस्ते चीजे ही पसंद है । देखा जाये तो सही है । पर  कुछ चीजें ऐसे भी होते है जोकि हमे नहीं खरीदना चाहिए।   मान लो कोई एक घड़ी हे जिसकी कीमत ₹ 10,000  हे और वही घडी बाजार में ₹ 1500 में मिल रही हे। और लोग बिना कोई सोचे और समझे उसके पीछे दौड़ने लगते है। 1500 वाले में ऐसी सस्ते मटेरियल का उपयोग करते हे जो सस्ते और low  quality के होते है। और जो लोग कहते हे की मोबाइल फट गया ये फट गया वो फट गया इसका कारण सस्ते चीजे ही होती है। महेंगे भी फटते हे पर ऐसा रेर केस में होता है। सस्ते के चक्कर में कई बार जान का भी खतरा होता है। तो जितना हो सके उतना कम  कम use करना चाहिए।

2)  मोबाइल कितने कीमत तक खरीदना चाहिए?

                भारत में हर कोई लोग स्मार्ट फोन के शौखिन हे। हर किसी को स्मार्ट फ़ोन चाहिए। पर कई लोग सोचे समझे इतने महेंगे मोबाइल खरीद लेते है कि कुछ बोलो ही मत। जिसको मोबाइल चलाना भी नहीं आता वो भी 20,000- 25000 हजार के मोबाइल खरीदते हैं। घर में खाने का ठिकाना नहीं होता और लोग मोबाइल से पेट भरते हे। उसको समजाने से भी वो लोग नहीं सुनते। उसको तो बस video, music, photo लेना और ज्यादा से ज्यादा game खेलना बस उतना ही काम करना है और  वो काम आज कल तो 10000-11000 के मोबाइल में भी हो जाता है। पर वो लोग क्या सोचते है किसी को नहीं पता। 
और एक fact sentence हे " जिसके पास ज्यादा पैसा हे वो कभी नहीं दिखाता और जिसके पास कम पैसा हे वो ज्यादा दिखावा करते हे।"

                                   🙏
              
pkmotivation

Post a Comment

0 Comments