प्यार क्या है? प्यार किसे कहते हे? What is love . True love.

What is love . True love.


प्यार क्या है? प्यार किसे कहते हे? What is love . True love.

आज में आप के लिए ऐसी मजेदार टॉपिक लेके आया हु जो  आप और हमारे जीवन में होता रहेता हे।
इस टॉपिक में हम प्यार  / लव से जुडी कुछ बाते जानेगे।

प्यार क्या है ? प्यार किसे कहते हे ?
जो कॉलेज में हे या कॉलेज पास कर लिया है इसको तो पता ही होगा की प्यार क्या है। पर में यहाँ उस प्यार की बात नहीं कर रहा जो आप सोच रहे हो। प्यार एक लड़के - लड़की से होता है,ये जरूरी नही हे। मेरी नजर में , में इसे योग्य नहीं मानता । प्यार भाई - बहन से भी होता है। माँ- पिता से , दोस्तों से। क्या इसे प्यार नहीं कहते ।

आज के समय में लड़को की नजर सही नही है। मेने एसी कई घटनाये देखी हे। मन तो करता है उन सब को उसी लड़की के चपल से पिटवाउं । इन लड़को को क्या लगता है । अगर किसी लड़की का नजर एक बार उस लड़के पर चला जाएं तो उसे लगने लगता है कि वो लड़की मुझे देख रही हे । लगता है वो मुझे पसंद करती है। बताओ ! खाली उस लड़की की नजर एक बार गई तो उसने केसा सोचा। एक बार किसी लड़की को देख ने से प्यार नही होता। उसे आकर्षन कहते हे । उसे प्यार नही कहा जाता। प्यार उसे कहते हे । जिसके साथ हम ज्यादा समय तक साथ रहते है। 
Example:-  मान लो एक लड़का और लड़की अछे दोस्त हे । वो साथ में स्कूल में पढ़ते हे। स्कूल के बाद हाई स्कूल में साथ पढ़ते हे। बाद में कॉलेज भी साथ में करते हे तो स्वभावीक हे एक दूसरे से प्यार हो सकता है । और ज्यादा तर केस में ऐसा ही होता है । और उसे ही प्यार कहते हे। और हम पहेली बार किसी को देखे और देखते ही बोले/बोली की मुझे उस से प्यार हो गया । एसा कभी नहीं हो सकता । प्यार लम्बे समय तक साथ रहने से होता है । देखने से नहीं । ऐसे ही हम भाई - बहन , दोस्त , माँ-पिता इन सब के साथ हम ज्यादा समय तक साथ रहते है तो इसे प्यार कहा जा सकता है। किसी लड़की को जाते हुए या बैठे हुए देखना गलत बात है। ईस से इम्प्रेसन कम होती है। और इस से कुछ नहीं होने वाला।

एसा नही की प्यार मत करो। करो पर सचा होना चाहिए।

ओर हा इस वेबसाइट में एक giveaway सुरु होने वाला है तो आप लोग उसमे जरूर पार्टिसिपेट करे। ज्यादा जानकारी के लिए ऊपर थ्री लाइन पे क्लीक करे।

                                  Thank you .


Post a comment

0 Comments